Dev Anand Quotes in Hindi | देव आनंद के प्रेरक अनमोल विचार

अपने जीवन में प्रेरणा पाने के लिए evergreen actor देव आनंद के प्रेरक अनमोल विचार (Dev Anand Quotes in Hindi) पढ़ें।

देव आनंद भारतीय फिल्म उद्योग के सबसे सफल अभिनेताओं में से एक थे। वह 1940 के दशक की शुरुआत में अभिनेता बनने के अपने सपने को पूरा करने के लिए मुंबई आए थे। वह हिंदी सिने उद्योग में evergreen actors में से एक थे।

देव आनंद का जन्म 26 सितंबर 1923 को पंजाब के गुरदासपुर जिले में हुआ था। उनके पिता पिशोरी लाल आनंद एक वकील थे। अपनी पढ़ाई पूरी करने के बाद, देव आनंद 1940 के दशक की शुरुआत में अपने होमटाउन को छोड़ कर जीवन जात्रा के लिए रवाना हुए।

घर छोड़ने के बाद, वह सेना में शामिल हो गए और 65 रुपये के मासिक वेतन पर काम किया। उन्होंने सैन्य नौकरी छोड़ दी और एक एकाउंटिंग फॉर्म में क्लर्क के रूप में काम करना शुरू कर दिया, जहां उनका मासिक वेतन 85 रुपये था। कुछ दिनों के बाद, देव आनंद ने अपनी नौकरी छोड़ दी। अपने बड़े भाई चेतन के साथ इंडियन पीपुल्स थिएटर एसोसिएशन (IPTA) के सदस्य के रूप में जुड़ गए।

अछूत कन्या और किस्मत जैसी फिल्मों में मशहूर अभिनेता अशोक कुमार के अभिनय को देखकर देव आनंद ने अभिनेता बनने की इच्छा जताई। देव आनंद को प्रभात फिल्म्स की “हम एक हैं (1946)” में मुख्य भूमिका निभाने का अवसर मिला, जो हिंदू-मुस्लिम एकता के बारे में एक फिल्म थी, जिसमें देव आनंद ने एक हिंदू लड़के की भूमिका निभाये थे।

उसके बाद उन्होंने पीछे मुड़कर नहीं देखा। उन्होंने हिंदी सिने जगत को राही (1953), पेइंग गेस्ट (1957), काला पानी (1958), बंबाई का बाबू (1960), हम दोनो (1961), गाइड (1965), जॉनी मेरा नाम (1970), तेरे मेरे सपने (1971), और हरे राम हरे कृष्णा (1971) जैसी कई सुपरहिट फिल्में दीं।

उन्होंने 1949 में अपने बड़े भाई चेतन आनंद के साथ फिल्म बनाने के लिए नवकेतन फिल्म्स की स्थापना की। उनका करियर हिंदी सिने जगत में 65 से अधिक वर्षों तक फैला, 114 हिंदी फिल्मों में अभिनय किया, जिनमें से उन्होंने 92 फिल्मों में मुख्य solo भूमिका निभाई, और उन्होंने दो अंग्रेजी फिल्में कीं।

वह कई पुरस्कारों के प्राप्तकर्ता थे। भारत सरकार ने उन्हें भारतीय सिनेमा में उनके योगदान के लिए 2001 में पद्म भूषण और 2002 में दादा साहब फाल्के पुरस्कार, 1965 में राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कार से सम्मानित किया।

देव आनंद के बारे में 2 सबसे दिलचस्प तथ्य

आनंद का 1948 से 1951 तक अभिनेत्री सुरैया के साथ प्रेम संबंध था, लेकिन सुरैया की नानी के विरोध के कारण उन्होंने कभी शादी नहीं की। 31 जनवरी 2004 को अपनी मृत्यु तक सुरैया जीवन भर अविवाहित रहीं। 1954 में, देव आनंद ने बॉलीवुड अभिनेत्री कल्पना कार्तिक से शादी की।

देव आनंद को बॉम्बे हाईकोर्ट ने काला कोट पहनने से प्रतिबंधित कर दिया था। क्योंकि एक रिपोर्ट के मुताबिक, वह ‘इतने हैंडसम’ लग रहे थे कि उनकी महिला प्रशंसक उनकी एक झलक पाने के लिए ऊंची इमारतों पर चढ़ जाती थी और उन्हें काले कोट में देखकर मोहित होकर आत्महत्या कर लेती थी। ऐसी लगातार घटनाओं के बाद उन्हें काला कोट पहनने पर रोक लगा दी गई थी।

देव आनंद के प्रेरक अनमोल विचार (Dev Anand Quotes In Hindi)

जीवन पर देव आनंद के अनमोल विचार

1. “जीवन बहुत छोटा है। मेरे पास धीरे-धीरे बोलने का समय नहीं है।” ― देव आनंद

2. “मैं हमेशा जल्दी में होता हूं क्योंकि समय जा रहा है, और मैं इसका पीछा कर रहा हूं।” ― देव आनंद

3. “मेरा जीवन वही है, और मैं 88 में एक खूबसूरत चरण में हूं। मैं उतना ही उत्साहित हूं जितना मैं अपने 20 के दशक में था।” ― देव आनंद

ऊर्जा और आलस्य पर देव आनंद के अनमोल विचार

4. “ऊर्जा से ऊर्जा उत्पन्न होती है। अगर आप आलसी हैं तो आप हमेशा आलसी रहेंगे। और अगर आप 60 साल की उम्र में रिटायर होते हैं, तो आप 65 साल की उम्र में मर जाएंगे।” ― देव आनंद

देव आनंद के प्रेरक अनमोल विचार

5. “यदि आप एक रचनात्मक व्यक्ति हैं, तो आपका दिमाग उम्र के साथ तेज होता जाता है। मेरा दिमाग बहुत तेज है और मैं इससे खुश हूं।” ― देव आनंद

6. “मुझे लगता है कि एक व्यक्ति का दिमाग एक अद्भुत चीज है। मुझे सच में विश्वास है कि अगर आपका दिमाग मजबूत है, तो आपका शरीर उसके साथ तालमेल बिठाने के लिए कड़ी मेहनत करता है।” ― देव आनंद

7. “मैं हर दिन लोगों से प्रेरणा लेता रहता हूं।” ― देव आनंद

8. “हर चीज मुझे अपना काम करने के लिए प्रेरित करती है।” ― देव आनंद

9. “अगर मैं चाहता तो मैं आधे बॉम्बे पर शासन कर सकता था।” ― देव आनंद

अभिनय और कार्य पर देव आनंद के अनमोल विचार

10. “मेरे पास अभिनेता बनने के लिए बहुत से लोग आते हैं, लेकिन मैं केवल उन्हीं को चुनता हूं जो मुझे लगता है कि मेरी स्क्रिप्ट में फिट हो सकते हैं।” ― देव आनंद

11. “1945 में मैं प्रमुख सितारा था। निर्देशन में आने के बाद मैंने अभिनय की गति को धीमा कर दिया।” ― देव आनंद

12. “जिसकी फिल्म हिट हो जाती है वह सुपरस्टार है। आज कोई है तो कल कोई और होगा। किसी एक महिला या पुरुष का हमेशा के लिए एकाधिकार नहीं होता है।” ― देव आनंद

काम के लिए प्यार पर देव आनंद के अनमोल विचार

13. “काश मैं फिर से देव आनंद के रूप में जन्म लेता, और लोग 25 साल बाद एक युवा सितारा देखेंगे। इससे मुझे जो करना है उसे पूरा करने के लिए कुछ समय मिलेगा।” ― देव आनंद

फिल्म निर्माण पर देव आनंद के अनमोल विचार

14. “एक फिल्म निर्माता बहुत बुद्धिमान व्यक्ति होता है। उसे कम मत समझो।” ― देव आनंद

15. “कोई भी फिल्म अर्थहीन नहीं होनी चाहिए।” ― देव आनंद

Final Words: आशा करते हैं की आपको ऊपर दिए गए देव आनंद के अनमोल विचार (Dev Anand Quotes in Hindi) आपको पसंद आए होंगे। नीचे दिए गए कमेंट बॉक्स में अपना मंतव्य उल्लेख करना न भूलें।

आप नीचे दी गई सूची से हमारे अन्य प्रेरक आर्टिकल भी पढ़ सकते हैं।

इसके अलावा, आप Motivational Images प्राप्त करने के लिए हमारे इंस्टाग्राम पेज से जुड़ सकते हैं या हमारे Pinterest पेज पर जा सकते हैं।

Author Image of Aap Bhi Jaano

ABOUT ME

I am Manoranjan, a learner like you. I just want to learn about the internet resources and share with you about those resources via blogging in Hindi.

Related Posts

Leave a Comment